Advertisement

latest™

करेला रोगों में रामबाण | amazing health benifits of bitter-gourd | शुगर कन्ट्रोल

केरेला रोगों में रामबाण | amazing health benifits of bitter-gourd | शुगर कन्ट्रोल 


नमस्कार दोस्तों हेल्दी इंडिया में आप सभी का स्वागत है आज हम बात करेंगे करेले के फायदे के बारे में !
दोस्तों करेला एक फायदेमंद सब्जी है जिसे हर कोई खाना पसंद करता है या यूं कहूं कि खाना पसंद नहीं करते  !
Bitter -gourd- benifits
Health benifits of bitter gourd 


क्योंकि करेला कड़वा होता है और जब इस की सब्जी बनाई जाती है तो उस में कड़वाहट होती है इसके कारण बहुत से ऐसे लोग हैं जो करेले को खाना पसंद नहीं करते
बट यह भूल रहे हैं कि.. करेला एक गुणकारी है इसके फायदे जानो तो आप चौक जाओगे करेले में बहुत सारे  गुन हैं
 करेले में सबसे ज्यादा मात्रा पानी की होती है इसके कारण यह आसानी से पच जाता है ।
करेले में मुख्यतः विटामिनA, विटामिन बी, विटामिन सी, पाई जाती है केरला एक बहुत बड़ा एंटी-ऑक्सीडेंट है जो हमारे शरीर को साफ रखने में मदद करता है
या यूं कहें कि हमारे शरीर की गंदगी को बाहर निकालता है



जानिए करेले को किस तरह यूज किया जाता है


भारतीय भोजन में करेले को अचार और सब्जी के रूप में यूज किया जाता है!
 भारत में भरवा करेला रेस्टोरेंट की शोभा बढ़ाता है हर घर में यदि कोई करेला खाता है तो वह एक भरवा करेला सब्जी के रूप में उसका यूज़ करते हैं उसको खाना पसंद करते हैं
भारत में भरवा करेला बनाया जाता है पहले करेले को भिगोकर के उसकी कड़वाहट को दूर किया जाता है फिर उसको  बीच में से काटा जाता है और उसमे प्याज और मसाला भर कर के उसे तेल में तला जाता है ऐसे भरवा करेले तैयार होते हैं आप जानते हैं करेले के लाभकारी गुणों के बारे में क्या है आखिरकार करेले के लाभकारी गुण किस तरह यह अनेक रोगों में काम आता है !

करेले के लाभकारी गुण :

           

  शुगर के ईलाज मे 



करेले को बहुत से रोगों के इलाज में उपयोग में लिया जाता है मुख्य करेले का उपयोग शुगर कंट्रोल में किया जाता है !
यदि करेले के जूस को नींबू के रस(lemon juice),और काली मिर्च(black paper),के साथ में सेवन किया जाए तो शुगर सही होता है ठीक होता है !
 यदि आप डायबिटीज से परेशान हैं तो करेले का रस आपके लिए फायदेमंद साबित होगा कैसे करते हैं करेले के रस का यूज़
 कैसे उपयोग करें
 करेले का जूस यदि हम सीधा पीना चाहते हैं तो हमसे पिया नहीं जाता क्योंकि करेला बहुत ज्यादा कड़वा होता है यदि हम उसे सीधा पीने की कोशिश करेंगे तो हमारा मुंह जल जाएगा और हमें एक अजीब सी बेचैनी हो सकती है तो करेले के जूस को यूज करने के लिए हमे सबसे पहले एक गिलास करेले के जूस  लेंगे और उसमें हम एक नींबू के रस को मिक्स कर देंगे साथ में काली मिर्च जो की पिसी हुई है उस काली मिर्च को आधा चम्मच पाउडर उसमें मिक्स कर देंगे अब पूरी तरह से मिक्स करने के बाद यह हमें कुछ कम कड़वा लगेगा और हमें उसे पीना !
यदि हम इसी तरह दिन में दो गिलास रोजाना यूज़ करें और लगातार करते जाएं तो हमारा लीवर है वह पॉजिटिव रिस्पांस देने लगेगा और हमारा शुगर लेवल है वह बिल्कुल डाउन हो जाएगा और हम एकदम स्वस्थ हो जाएंगे !

             पीलिया जोंडिस में केरेला :



पीलिया और जॉन्डिस के इलाज में करेले का जूस बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है
 हमें पीलिया लीवर के खराब हो जाने के कारण होता है !
कई बार हमें शुद्ध पानी का उपयोग कर लेते हैं जिसके कारण उस पानी में मौजूद बैक्टीरिया हमारे लिवर की खराबी का कारण बन जाते हैं इसके कारण हमारे लीवर मैं इंफेक्शन होने लगते हैं और वही इन्फेक्शन सामने आता है पीलिया के रूप में यदि हमें पीलिया ठीक करना है तो हमें करेले के जूस को नींबू के रस में मिलाकर के रोजाना यूज़ करना चाहिए ऐसा करने से उसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट गुण लिवर की सफाई करते हैं और इससे लीवर की जो खराबी है वह धीरे-धीरे मेंटेन होने लगती है और हमारा लीवर प्रॉपर तरीके से काम करना स्टार्ट कर देता है जिससे हमारा पीलिया है दूर होने लगता है
           

                 पेट के रोगों में:



पेट के रोगों में मुख्यत अपच गैस एसिडिटी इन सभी की प्रॉब्लम आती है यह सारी प्रॉब्लम हमें होती है हमारे खाने के प्रॉपर तरीके से न पचने के कारण हम जो भी भोजन करते हैं  !
यदि वह नहीं पचता है तो हमें एसिडिटी गैस इन सभी की प्रॉब्लम होने लगती है और इसके कारण हमें मोटापे जैसी समस्या भी हो सकती है

यदि हम करेले के रस को रोजाना सुबह-शाम यूज़ करें तो हमें यह प्रॉब्लम से निजात मिल सकती है !
या यदि आप करेले को पीसकर के पाउडर बनाकर के उसे शहद के साथ में सुबह-शाम एक-एक चम्मच पानी के साथ में यूज करते हैं तो इससे भी आपकी जो पेट की प्रॉब्लम है वह दूर होती है !

                  रतौंधी में:



आंखों की प्रॉब्लम में भी करेले का बहुत उपयोग किया जाता है यदि आपको रतौंधी जैसी प्रॉब्लम है यदि आपको शाम होने के बाद में दिखना कम होने लग गया है तो आप रतौंधी से पीड़ित है ।
 यदि आप करेले के जूस को शहद के अंदर मिलाकर के सुबह खाली पेट रोजाना यूज़ करते हैं तो आइए आपकी आंखों की प्रॉब्लम दूर होती है क्योंकि करेले के रस के अंदर विटामिन ए पाया जाता है जो आंखों के लिए बहुत ही गुणकारी है !


                जोड़ों के दर्द में: 


यदि आपके दादा-दादी आपके माता पिता को जोड़ों की समस्या है ।
तो करेला उनके लिए रामबाण सिद्ध हो सकता है
इसके लिए आपको पैसा हुआ करेले के पाउडर को तिल के तेल में मिलाकर के लेप बना लें और वह सुबह-शाम आप जोड़ों पर अप्लाई करें क्योंकि करेले में विटामिन बी सिक्स होता है और जब उसे तिल के तेल में मिलाया जाता है तो तिल के तेल में भी विटामिन बी सिक्स पाया जाता है इसके कारण
यह आपके घुटनों की सूजन घुटनों के दर्द को कम करते हैं या यूं कहें कि आपको घुटनों की प्रॉब्लम को क्लियर कर देते हैं


©Heldiindia:  तो दोस्तों कैसी लगी आपको हमारी यह पोस्ट यदि हमारी पोस्ट आपको पसंद आती है तो अपनी राय जरूर दें !




No comments:

Post a Comment

हमारी जानकारी के बारे में आपकी क्या राय है कृपया
comment करें © https://heldiindia.ooo